GKVIDYA
4 subscribers
2 photos
3 links
This is one of the best website for daily current affairs,GK and GS,in Hindi,which can be very helpful for your exam preparations.Share this website to all the social plateforms and also like.
Download Telegram
to view and join the conversation
Channel created
Channel photo updated
Channel photo updated
Channel photo updated
3-वाराणसी में शुरू हो गया काशी उत्सव


चर्चा में क्यों है-रुद्राक्ष अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और सम्मलेन केंद्र द्वारा काशी की विरासत और संस्कृति का उत्सव मनाने के लिए इसे आरम्भ किया गया है।
प्रमुख तथ्य-: इसका आयोजन 16-18 नवंबर 2021 तक होगा।
: इसे संस्कृति मंत्रालय के तत्वाधान में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में मनाया जा रहा है।
: इस आयोजन के दौरान विभिन्न साहित्यिक एवं सांस्कृतिक कृतियों पर परिचर्चा,प्रदर्शनी,और लघु चलचित्रों के माध्यम से महान विभूतियों के जीवन दर्शन को प्रदर्षित किया जायेगा।
: ये विभूतियाँ है-गोस्वामी तुलसी दास,संत रैदास,संत कबीर दास,मुंसी प्रेमचंद,भारतेन्दु हरिश्चंद्र और जयशंकर प्रसाद।
: 16 नवंबर का प्रोग्राम-काशी परिचर्चा-काशी के हस्ताक्षर(विषय/थीम),काशी के चलचित्र,काशी की कला,और मै काशी हु।
:17 नवंबर का प्रोग्राम/-कबीर,रैदास की बानी और निर्गुण काशी (विषय/थीम)
:18 नवंबर का प्रोग्राम/- कविता और कहानी काशी की जुबानी (विषय/थीम)

क्लीक करें-काशी उत्सव 2021
आज से झाँसी में शुरू होगा राष्ट्र रक्षा समर्पण पर्व
चर्चा क्यों है- 17 -19 नवंबर के बीच चलने वाले इस पर्व का उद्घाटन रक्षा मंत्री द्वारा राज गंगाधर राव कलामंच(मुक्तकाशी) से आज़ादी के अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में किया जायेगा।
प्रमुख तथ्य-: प्रधानमंत्री भी इस अवसर पर 19 नवंबर को रानी लक्ष्मी बायीं के जन्मदिन के अवसर पर झाँसी किले में आयोजित समारोह में रक्षा मंत्रालय के नयी पहल का उद्घाटन करेंगे।
: इस दिन प्रधानमंत्री कई योजनाओं को राष्ट्र को समर्पित भी करेंगे।
: 100 नए सैनिक स्कूल की स्थापना,NCC का बॉर्डर और कोस्टल एरिया में विस्तार,NCC एलुमिनी एसोसिएशन,और कैडेटो के लिए राष्ट्रीय सिमुलेशन प्रशिक्षण कार्यक्रम होगा।
:एलुमिनी एसोसिएशन का पहला सदस्य प्रधानमंत्री को बनाया जायेगा जिसका आजीवन शुल्क मात्र 100 रुपये है। इसके लिए ऑनलाइन पंजीकरण भी शुरू होगा जिससे करोड़ो पूर्व कैडेटो को जोड़ा जायेगा।
TECH NEEV(नींव)@75 की शुरुआत की विज्ञानं और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने
सन्दर्भ-केंद्रीय मंत्री जीतेन्द्र सिंह ने 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर आज़ादी के अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में इसका उद्घाटन किये,साथ ही सफल स्टार्टअप्स के साथ बातचीत भी किये।
TECH NEEV(नींव)@75 क्या है-यह एक उत्सव है जो एक वर्ष तक चलेगा,और जो समान समावेशी आर्थिक विकास करने हेतु समुदायों को मजबूत बनाने में विज्ञानं और प्रौद्योगिकी नवाचारों के प्रभाव को बताता है।
यह 75 घंटे का कार्यक्रम है जिसमे लाभार्थियों के अनुभव करना,सामाजिक परिवर्तन लेन वाले सम्मलेन और गोलमेज चर्चा आदि शामिल है। इसमें 75 प्रभावशाली कहानियों का संकलन किया गया है।इसके माध्यम से पुरे भारत में बेहतर आजीविका परिणामो के लिए विज्ञानं एवं प्रौद्योगिकी नवाचार(STI) अपनाने के लिए एक मजबूत आधार दिया जाएगा।
प्रमुख तथ्य-:सरकार की यह पहल आदिवासी समुदायों के बीच वैज्ञानिक प्रतिभा को बढ़ावा देने हेतु 2022 के अंत तक देश के विभिन्न भागों में 30 विज्ञानं एवं प्रौद्योगिकी नवाचार(STI) हब स्थापित करेगी। जिससे पूर्ण सामाजिक आर्थिक विकास करने में मदद मिलेगी।
:प्रस्तावित 75 विज्ञानं एवं प्रौद्योगिकी नवाचार(STI) हब से विज्ञानं एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा 20 पहले ही स्थापित किये जा चुके है। जिससे लगभग 20000 से ज्यादे लोगो को वभिन्न क्षेत्रों में लाभ मिलेगा।
विंग्स इंडिया 2022 कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया

सन्दर्भ- हाल ही आयोजित विंग्स इंडिया 2022 का उद्घाटन केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया यह एक पूर्व भूमिका(कर्टेन रेजर) प्रोग्राम था इस कार्क्रम के आयोजन के लिए मंत्री ने AAI और FICCI के सहयोग की प्रशंसा भी किये।
प्रमुख तथ्य-इस कार्यक्रम को हैदराबाद के बेगमपेट में 24-27 मार्च 2022 को आयोजिय किया जायेगा,और जिसका थीम होगा-"India@75:New Horizon for Aviation Industry" (विमानन उद्योग के लिए नया क्षितिज)
: उड्डयन उद्योग भारत के आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते आ रहा है क्योकि यह व्यापार और पर्यटन को देश विदेश से जोड़कर अनेक नए अवसर प्रदान करता है।
: वर्तमान में भारतीय उड्डयन उद्योग विश्व में तीसरे स्थान पर है अमेरिका और चीन के बाद जो इतने बड़े घरेलु यातायात को संभाल रहा है।
इस आयोजन का उद्देश्य क्या है-विमानन बाजार के प्रमुख हितधारकों,अंतर्राष्ट्रीय नियामकों,राज्य सरकारों,एयरलाइन समूहों को साथ विमानन कंपनियों,हवाईअड्डा संचालकों,कार्गो संचालकों को एक मंच प्रदान करना।

2-भारत की पहली लीगो(LIGO) परियोजना शुरू होगी महाराष्ट्र में
LIGO PARIYOJNA

चर्चा क्यों है- 17 नवंबर 2021 को महाराष्ट्र के हिंगोली राजस्व विभाग ने औंधा नागनाथ शहर के दुधला क्षेत्र में 225 हेक्टेयर जमीन LIGO परियोजना के लिए आवंटित किया है।
प्रमुख तथ्य- :यह भारत की पहली (LIGO) लेज़र इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल वेव ऑब्जर्वेटरी परियोजना है। जो भारत सरकार द्वारा 2016 में LIGO परियोजना को पूर्व नियमो(इन प्रिसेप्ट) के तहत मंजूरी दी गयी थी।
: ऐसी प्रयोगशालाएं भारत के अलावा अमेरिका में वाशिंगटन के हैनफोर्ड और लुइसियाना के लिविंग्स्टन में स्थित है जो गुरुत्वीय तरंगो की जाँच करती है।
: LIGO प्रोजेक्ट का प्रस्ताव भारत सरकार के परमाणु ऊर्जा विभाग तथा विज्ञानं एवं प्रौद्यौगिकी द्वारा राष्ट्रीय विज्ञानं फाउंडेशन,अमेरिका के साथ एक समझौता ज्ञापन के तहत शुरू करने के लिए लाया गया।
: भारत में इस परियोजना के समन्वयक और क्रियान्वयन करेंगे
A- IUCAA पुणे-इंटर यूनिवर्सिटी सेण्टर फॉर एस्ट्रोनॉमी एंड एस्ट्रोफिजिक्स।
B-IPR,गांधीनगर -इंस्टिट्यूट फॉर प्लाज़्मा रिसर्च।
C-RRCAT,इंदौर -राजा रमन्ना सेण्टर फॉर एडवांस्ड टेक्नोलॉजी।
D-DCSEM,मुंबई -डिपार्टमेन्ट ऑफ़ एटॉमिक एनर्जी डायरेक्टरेट ऑफ़ कंस्ट्रक्शन,सर्विसेज एंड एस्टेट मैनेजमेंट।
LIGO के बारे में-यह भौतिकी से सम्बन्धीत एक वैज्ञानिक प्रयोग वेधशाला है जिसके माध्यम से ब्रह्मांडीय गुरुत्वाकर्षण तरंगो का पता लगाया जाता है।जो अपने अध्ययन में गुरुत्वाकर्षण तरंग प्रेक्षणों का प्रयोग करते है।

3-विश्व शौचालय दिवस मनाया गया
विश्व शौचालय दिवस

सन्दर्भ-हर वर्ष की तरह इसा वर्ष भी 19 नवंबर को विश्व शौचालय दिवस मनाया गया।
थीम क्या है-Valuing Toilets
2020 की थीम-स्वच्छता और जलवायु परिवर्तन।
उद्देश्य -इस दिवस का उद्देश्य है स्वच्छता के महत्व के बारे में लोगो को परिचित कराना है और खुले में शौच की प्रथा को रोकना है।
जरुरी क्यों है-जब लोगों के पास सुरक्षित शौचालय नहीं होते हैं तो सभी के स्वास्थ्य को खतरा होता है यह खतरा पीने के पानी से लेकर खाद्य फसलो तक को दूषित कर घातक बीमारियों का कारण बनता है।
इस दिवस का इतिहास- विश्व शौचालय दिवस की पहली बार पहल सिंगापूर के जैक सिम द्वारा एक एनजीओ विश्व शौचालय संगठन की स्थापना द्वारा की गई थी।

:2010 में एचडब्ल्यूएफ ने जल और स्वच्छता के मानव को एक मौलिक अधिकार के रूप में मान्यता दी।
:2013 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 19 नवंबर को विश्व शौचालय दिवस के रूप में नामित कर दिया।
: पुनः 24 जुलाई 2013 को "सबके लिए स्वच्छता" नामक शीर्षक से इस दिवस को घोषित करने का संकल्प लिया गया।
लक्ष्य क्या है- 3.6 बिलियन लोग जो अब तक शौचालय से वंचित है उन लोगों में जागरूकता बढ़ाना। इसके लिए सरकारों को भी 4 गुना तेजी से अपने कार्यो को बढ़ा कर 2030 तक सभी के लिए शौचालयों की व्यवस्था करना।

क्लिक करें

4-2025 तक यमुना की सफाई कर देगी दिल्ली सरकार

चर्चा क्यों है- दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल ने 2025 तक यमुना नदी की सफाई का लक्ष्य रखा है इसके लिए इन्होने छः सूत्रीय कार्य योजना की घोषणा की है।

प्रमुख तथ्य-:इसे फ़रवरी 2025 तक नहाने योग्य बना दिया जायेगा,इसके लिए छः एक्शन पॉइंट है -
:नए सीवर ट्रीटमेंट प्लांट बनाये जायेंगे।
:मौजूदा प्लांटों की क्षमता भी बढ़ायी जाएगी।
:पुराने ट्रीटमेंट प्लांटों की तकनीक में बदलाव किया जायेगा।
:झुग्गीयों से निकलने वाले कचड़े को नदियों में मिलने से बचाकर उसे सीवर में मिला दिया जायेगा।
:कुछ क्षेत्रों में सीवर कनेक्शन न लेने वाले लोगो को मामूली शुल्क पर सीवर कनेक्शन देना।
:गाद निकालने का काम भी लिया जायेगा।
:इसके लिए कुछ नालों का इन सीटू सफाई किया
Channel photo updated
कोहिमा में तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट का उद्घाटन

कोहिमा अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट
चर्चा में क्यों है- नागालैंड के मुख्यमंत्री नेफियू रिओ और पर्यटन राजयमंत्री अजय भट्ट ने राजधानी कोहिमा में तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट का उद्घाटन किया।
उद्देश्य- घरेलु एवं अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों में इस क्षेत्र की पर्यटन संभावनाओं को विशिष्ट रूप से प्रदर्शित करना है।
लक्ष्य- इस मार्ट में अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों साथ मुख्य रूप से घरेलु पर्यटको पर जोर दिया जा रहा है,जिसे मार्ट में शामिल हुए इस क्षेत्र के 75% विक्रेता और देश से 50% क्रेता के माध्यम से देखा जा सकता है।
प्रमुख तथ्य-:इस पर्यटन मार्ट का आयोजन पर्यटन मंत्रालय के सहयोग से किया जा रहा है।
:इस अवसर पर नागालैंड पर कॉफी टेबल बुक भी लांच की गयी है।
:यहाँ सीमा पर्यटन और वन्यजीव पर्यटन की आपार संभावनाएं मौजूद है।
:अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन मार्ट देश के पूर्वोत्तर क्षेत्र में यात्रा और टूर नेटवर्किंग का सबसे बड़ा आयोजन है।
:एक भारत श्रेष्ठ भारत, दृष्टिकोण के अनुरूप एक अध्‍ययन दौरे के तहत भाग ले रहे देश भर के विद्यार्थी इस क्षेत्र की समृद्ध विरासत और संस्कृति को समझने के लिए स्थानीय विद्यार्थियों के साथ बातचीत भी करेंगे।
:यह मार्ट तीन दिन(27-29नवम्बर 202) तक चलेगा जिसमे 300 से अधिक प्रतिभागी भाग ले रहे है।
:इनके लिए पर्यटन मंत्रालय ने किसामा हेरिटेज विलेज, किसामा वॉर म्यूजियम और मोरंग्स, खोनोमा विलेज और कोहिमा स्थित द्वितीय विश्व युद्ध के कब्रिस्तान का दौरा आयोजित किया है।
:प्रधानमंत्री ने भी अपील की थी कि हर व्यक्ति को पूर्वोत्तर का दौरा करना चाहिए जहाँ पर्यटन की आपार संभावनाएं मौजूद है।
:पूर्वोत्तर राज्यों में आधारभूत ढांचा बनाने हेतु भारत सरकार ने स्वदेश दर्शन और प्रसाद योजना के तहत आर्थिक मदद भी की है।
:इस आयोजन में इस आयोजन में राज्य सरकारों की ओर से उनकी पर्यटन संभावनाओं पर प्रस्तुतियां दी जाएगी,और पूर्वोत्‍तर क्षेत्र के राज्य पर्यटन विभागों द्वारा भाग लेने वाले राज्यों के पर्यटन उत्पादों के लिए एक प्रदर्शनी भी लगायी जाएगी।
:यह मार्ट नागालैंड में पहली बार आयोजित हो रहा है,क्योकि यह मार्ट बारी बारी से पूर्वोत्तर के राज्यों द्वारा किया जाता है,इसके पिछले संस्करणों को गुवाहाटी (असम), तवांग (अरुणाचल प्रदेश), शिलांग (मेघालय), गंगटोक (सिक्किम), अगरतला (त्रिपुरा),और इंफाल (मणिपुर) में आयोजित किए जा चुके हैं।

2-मॉडल रिटेल आउटलेट योजना के साथ दर्पण@पेट्रोलपंप कार्यक्रम की शुरूआत

मॉडल रिटेल आउटलेट योजना के साथ दर्पण@पेट्रोलपंप
सन्दर्भ- इंडियन ऑयल,भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने इस मॉडल रिटेल आउटलेट योजना का उद्घाटन किया गया।
उद्देश्य-तीनो तेल कंपनियों द्वारा अपने नेटवर्क पर सुविधाओं और सेवा मानकों को बढ़ाने हेतु इस योजना की शुरुआत किया है।
लक्ष्य-इन पहलों के माध्यम से मानकीकृत ग्राहक सुविधाओं को सुनिश्चित करने के लिए खुदरा दुकान मानकों को एक मानदंड बनाना है,ताकि ग्राहकों को बेहतर अनुभव मिले।
प्रमुख तथ्य-:यह आदर्श खुदरा दुकान प्रतिदिन 6 करोड़ से अधिक उपभोक्ताओं को सेवा दे रहा है।
:इस योजना तहत देश भर में 70,000 से अधिक खुदरा दुकानों की एक गहन 5 स्तरीय मूल्यांकन प्रक्रिया शामिल है।
:इस मूल्याङ्कन के अंतर्गत सेवा और सुविधा मापदंडों के साथ-साथ,स्वच्छ एवं स्वास्थ्यकरशौचालय, ग्राहक केंद्रित अभिनव भेंट आदि जैसे ग्राहक सुविधाओं के मानक शामिल किये गए हैं।
:डिजिटल इंडिया अनिवार्यता को ध्यान में रखते हुए बिक्री के प्रदर्शन,दी जाने वाली सुविधाओं,और बिक्री केंद्र पर उनके :डिजिटल लेनदेन के प्रतिशत के आधार पर खुदरा दुकानों को चार श्रेणियों में विभाजित किया गया है।
:शीर्ष प्रदर्शन करने वालों को पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय द्वारा “श्रेष्ठ” और “उत्तम”पुरस्कार,और संबंधित तेल कंपनियों द्वारा “राज्य सर्व प्रथम” पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा।
:दर्पण@पेट्रोलपंप कार्यक्रम-एक डिजिटल ग्राहक तत्क्षण प्रतिक्रिया कार्यक्रम है,जिसके माध्यम से ग्राहक अपनी प्रतिक्रियां को भेज कर खुदरा दुकानों पर सेवा मानकों को बढ़ाने में सहायता दे सकते है।

3-यूनेस्को के महासम्मेलन के 41वें सत्र का समापन पेरिस में

यूनेस्को के महासम्मेलन के 41वें सत्र
सन्दर्भ- 9-24 नवंबर तक यूनेस्को के जारी महासम्मेलन के 41वें सत्र का समापन फ्रांस की राजधानी पेरिस में संपन्न।
प्रमुख तथ्य-:यूनेस्को में ब्राजील के स्थायी प्रतिनिधि,राजदूत सैंटियागो इराज़ाबल मौराओ ने महासम्मेलन के 41वें सत्र के अध्यक्ष के रूप में पदभार ग्रहण किया।
:ऑड्रे अज़ोले को यूनेस्को के महानिदेशक के रूप में दूसरे जनादेश के लिए फिर से चुना गया।
:उन्होंने महासम्मेलन के 41वें सत्र में कुल 169 मतपत
आज का करेंट अफेयर्स